Home Authors Posts by R. K. Laxman

R. K. Laxman

1 POSTS 0 COMMENTS

सोमवार की सुबह

School
स्वामी और उसके दोस्त का प्रथम अंशसोमवार की सुबह थी। स्वामीनाथन की आंखे खोलने की इच्छा नहीं हो रही थी। सोमवार उसे कैलेंडर का सबसे मनहूस दिन लगता था। शनिवार और रविवार की मज़ेदार आजादी के बाद सोमवार को काम और अनुशासन के मूड़ में आना बहुत मुश्किल होता था।स्कूल के विचार से ही उसे झुरझुरी आ गयी वह...

Popular

Featured