बसंत की हवा के साथ
रंगती मन को
मलती चेहरे पर हाथ
ये होली
लिए रंगों की टोली
लाल गुलाबी बैंगनी हरी पीली
ये नवरंगी तितली है।
आज तो जाएगी घर घर
दर दर ये मौज मनाएंगी
भूल पुराने झगड़े सारे
सबको गले लगाएगी
पीली फूली सरसौं रानी

Holi: Indian festival of colours
Holi: Indian festival of colours

बच्चों के लिए हिन्दी कविता
Hindi poem for children